Skip to content

24/Hour Customer Service

Dear Customer, You are our God

☎️ 8447-736-732

24/Hour Customer Service

Dear Customer, You are our God

☎️ 8447-736-732

24/Hour Customer Service

Dear Customer, You are our God

☎️ 8447-736-732

24/Hour Customer Service

Dear Customer, You are our God

☎️ 8447-736-732

24/Hour Customer Service

Dear Customer, You are our God

☎️ 8447-736-732

प्रेगनेंसी में कितने महीने तक संबंध बनाना चाहिए - Positive Gems

प्रेगनेंसी में कितने महीने तक संबंध बनाना चाहिए - Positive Gems

on

प्रेगनेंसी का समय बहुत ही प्यारा और अनोखा होता है। ये एक महिला के जीवन का एक महत्वपूर्ण अवसर होता है। क्युकी इस दौरान महिला के जीवन में कुछ ऐसे बदलाव होते है जो बहुत ही प्यारे होते है जैसे बच्चे का विकास देखना और उसके अंदर पल रहे हर हल्की हरकत से प्यार और आनंद मिलना, महिला के शरीर में बदलाव होना आदि।

अब ऐसे समय में जब भी बात सेक्स की आती है तो अक्सर कपल्स के मन संदेह रहता है कि प्रेगनेंसी में कितने महीने तक संबंध बनाना चाहिए? आपको बता दें कि सेक्स हमारे जीवन का अहम हिस्सा होता है जो हर कपल्स के बीच एक अनोखा बंधन बनाता है जिससे पुरुष और महिला एक दूसरे के लिए शारीरिक और मानसिक रूप से एक दूसरे के प्रति अपनी प्यार और समर्पण को दिखते है यह कपल्स को खुश और सेहतमंद रहने में मदद करता है।

हर कपल अपने जीवन में सेक्स का आनंद लेना चाहते है इसलिए इसमें कोई शर्माने वाली बात नहीं है आज के इस ब्लॉग में हम आपको बतायेगे कि प्रेगनेंसी में कितने महीने तक संबंध बनाना चाहिए? जिससे बच्चे को भी कोई नुकसान न हो और सेक्स का भी भरपूर आनंद ले सके।

प्रेगनेंसी में कितने महीने तक संबंध बनाना चाहिए? (Pregnancy mein Kitne Mahine tak sambandh banana chahiye)

प्रेगनेंसी का समय नौ महीने का होता है इस बीच स्वास्थ्य बनाये रखना बहुत ज़रूरी होता है। इस बीच अगर कोई कपल सेक्स करना चाहता है, तो प्रेगनेंसी के पहले तीन महीने तक सेक्स करना सुरक्षित माना जाता है जिससे बच्चे को कोई क्षति नहीं पहुँचती। हालांकि, विशेषज्ञ भी प्रेगनेंसी के पहले 3 महीने के बाद सेक्स नहीं करने की सलाह देते है। अगर आप प्रेगनेंसी के समय सेक्स या नार्मल दिनों में सेक्स संबंधी समस्या के बारे में जानना चाहते है तो आप इस ब्लॉग में सबसे नीचे हमारे नंबर पर कॉल करके अपनी सेक्स समस्या बता सकते है, हमारे एक्सपर्ट्स आपकी पूरी सहायता करेंगे।

सेक्स करना एक नेचुरल प्रक्रिया है इसका जीवन में बहुत अधिक महत्व है इसके बिना जीवन की कल्पना भी संभव नहीं की जा सकती। इसलिए कहा जाता है सेक्स को आनंद लेकर करना चाहिए।

लेकिन फिर भी कई लोगो के मन में ये सवाल रहता है प्रेगनेंसी के दौरान सेक्स करना चाहिए या नहीं? या फिर प्रेगनेंसी में कितने महीने तक संबंध बनाना चाहिए? ये सुरक्षित तो है न? प्रेगनेंसी में संबंध बनाने से गर्भ में पल रहे बच्चे को कोई खतरा तो नहीं होगा?

इन सभी सवालों के जवाब अक्सर पुरुषों के मन में आते है जब महिला प्रेगनेंट होती है और वे सेक्स करना चाहते है लेकिन नहीं पाते। पॉजिटिव जेम्स के इस ब्लॉग में आपको इससे संबंधित सभी जानकारी मिलेगी कि प्रेगनेंसी में कितने महीने तक संबंध बनाना चाहिए? और कौन कौन सी बातों का ध्यान रखना चाहिए ताकि महिला के गर्भ में पल रहे बेबी को कोई क्षति न हो।

प्रेगनेंसी में सेक्स करना कितना सही है या सुरक्षित है?

सेक्सोलॉजिस्ट का मानना है कि अगर प्रेगनेंसी में अगर करना नार्मल है, इसमें किसी तरह कि कोई दिक्कत या परेशानी नहीं होती, आप गर्भ धारण करने के बाद भी सेक्स कर सकती है लेकिन अगर प्रेगनेंसी के दौरान अगर सेक्स करने में किसी तरह कि कोई समस्या आती है तो ये सलाह दी जाती है कि आप सेक्स न करें तो बेहतर है।

ध्यान रखें, अगर आपकी प्रेगनेंसी नार्मल है तो आप प्रेगनेंसी के आखिरी तिमाही तक सेक्स कर सकते है, लेकिन अगर प्रेगनेंसी के दौरान आपको समस्या होती है तो आप प्रेगनेंसी के पहले तिमाही तक ही सेक्स कर सकती है इसके बाद सेक्स करना सही नहीं माना जाता। प्रेगनेंसी में महिलाओ के शरीर में हार्मोन्स बदलते रहते है जिसकी वजह से हो सकता है महिलाओ में सेक्स करने की इच्छा ज्यादा हो या फिर बिलकुल भी न हो। इसलिए आपको अपनी महिला पार्टनर की फीलिंग्स की इज्जत करनी चाहिए और उन्हें वो सभी खुशिया दें जिसकी वो आपसे मांग करे।

प्रेगनेंसी में सेक्स करने के बेहतरीन तरीके:

जैसा कि हमने ऊपर समझाया है प्रेगनेंसी के दौरान अगर महिला सेक्स करने की इच्छा जाहिर करे तो इसके लिए पुरुष पार्टनर को कुछ सुरक्षित तरीके अपनाने चाहिए जिससे गर्भ में पल रहे बच्चे को भी कोई क्षति न हो और दोनों सेक्स का भरपूर आनंद भी ले सके। तो चलिए देखते है ऐसे कौन से तरीके है जिससे प्रेगनेंसी में सेक्स करने से महिलाओ को अद्भुत सुख का अनुभव होता है।

गर्भावस्था के दौरान, कपल्स को ऐसी पोजीशन चुननी चाहिए जिससे गर्भवती के पेट पर दबाव न पड़े, जैसे कि मिशनरी पोजीशन। यदि कोई महिला अपनी पीठ के बल लेटती है, तो शिशु का वजन उसके अंदर के अंगों या प्रमुख धमनियों पर अतिरिक्त दबाव डाल सकता है।

एक गर्भवती महिला उन स्थितियों में अधिक आरामदायक महसूस कर सकती है जहां वह प्रवेश की गहराई और गति को नियंत्रित कर सकती है।

आरामदायक स्थितियों में गर्भवती महिला का अपने साथी के ऊपर होना, अगल-बगल चम्मच चलाना (side-by-side स्पूनिंग) या बिस्तर के किनारे पर बैठना (sitting at the edge of the bed) शामिल हो सकता है।

प्रेगनेंसी में सेक्स करने के फायदे (Pregenency mein sex karne ke fayde)

  • प्रेगनेंसी में सेक्स करने के फायदे (Pregenency mein sex karne ke fayde) बहुत से फायदे है, जब प्रेगनेंसी के दौरान सेक्स करने से महिला के शरीर से एंडोर्फिन और ऑक्सीटोसिन हार्मोन्स रिलीज़ होते है जिससे कपल्स के बीच में प्यार बढ़ता है और रिश्ते भी मजबूत होते है।
  • अगर प्रेगनेंसी में सेक्स करते है तो मानसिक रूप से स्वास्थ महसूस होता है जिससे नींद बेहतर होती है और शरीर में रक्त संचार बढ़ता है जो आपके स्वास्थ के साथ आपके बच्चे के लिए भी अच्छा होता है।
  • प्रेगनेंसी में सेक्स करने से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है, एंटीबाडीज का स्तर बढ़ता है जिससे शारीरिक और मानसिक रूप से स्वास्थ महसूस करते है, आपको पता होगा सर्दियों में कम इम्युनिटी होने के कारण खासी ज़ुकाम जैसी समस्याएं होती है अगर आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता बेहतर है तो ऐसी छोटी मोटी समस्या हमेशा दूर रहेगी।
  • प्रेगनेंसी में संबंधा बनाने से योनि में मौजूद मांसपेशिया मजबूत होती है और डिलीवरी के टाइम अत्यधिक पीड़ा नहीं होती।
  • गर्भावस्था के दौरान अगर संबंध बनाते है तो ब्लड प्रेशर नॉर्मल होता है जिससे बहुत बड़ी बड़ी बीमारियों से राहत मिलती है।

प्रेगनेंसी में संबंध बनाने के नुकसान (Pregenency mein sambandh ke nuksaan)

प्रेगनेंसी में संबंध बनाने के नुकसान (Pregenency mein sambandh ke nuksaan)- जिस प्रकार प्रेगनेंसी में सम्बन्ध बनाने से कुछ फायदे है ठीक उसी प्रकार कुछ नुकसान भी होते है, इस सेक्शन में हम आपको प्रेगनेंसी में संबंध बनाने के कुछ नुकसान और उनसे बचने के लिए कुछ सावधानी भी बतायेगे।

अगर आप प्रेगनेंसी में संबंध बनाते है तो इस दौरान साफ़ सफाई का बहुत ध्यान रखने की ज़रूरत होती है, कंडोम का उपयोग करना चाहिए ताकि इन्फेक्शन या एसटीडी (सेक्सुअल ट्रांसमिटेड डिसीस) न हो, सेक्स के समय कम्फर्ट वाली पोजीशन का ध्यान रखना ज़रूरी होता है। इसके अलावा कुछ महत्वपूर्ण बाते है, जिनका आपको खास ख्याल रखना चाहिए और गंभीर स्तिथि से बचना चाहिए।

  • प्रेगनेंसी में सेक्स करते समय अगर ज्यादा ब्लीडिंग की होने लगे तो ऐसे में सम्भोग करना रोक देना ही बेहतर होता हैताकि गर्भ में पल रहे बच्चे को किसी प्रकार का कोई खतरा न हो।
  • प्रेगनेंसी के दौरान गर्भाशय के अंदर तरल द्रव के रूप में उपस्थित एमनियोटिक थैली दो झिल्लियों से बनी होती है जो शिशु को सुरक्षित करता है अगर एमनियोटिक द्रव अधिक बढ़ जाये तो ऐसी स्तिथि में सेक्स करने से बचना चाहिए।
  • अगर गर्भ में किसी प्रकार की कमजोरी महसूस होती है तो ऐसी स्तिथि में संबंध बनाने से बचना चाहिए।
  • अगर आप पहले भी गर्भपात की समस्या के निकली है तो इस बार प्रेगनेंसी के दौरान सेक्स करने से पहले एक बार किसी एक्सपर्ट की सलाह ज़रूर ले लें।
  • अगर गर्भ में ट्विन बेबी (दो बच्चे) पल रहे है तो आपको सेक्स करने से बचना चाहिए ऐसी स्तिथि में बच्चो को क्षति हो सकती है।
  • प्रेगनेंसी के दौरान अगर सेक्स करते है योनि से ब्लीडिंग होने लगे तो ये गर्भपात कि और इशारा करता है। अगर आपके योनि से खून आने लगे तो आपको सेक्स करने से बचना चाहिए।
  • अगर आपको या आपके पार्टनर को एसटीडी (सेक्सुअली ट्रांसमिटेड डिजीज) है तो आपको प्रेगनेंसी में सेक्स करने से बचने की सलाह दी जाती है।
  • अगर आप एनल सेक्स कर रहे है तो उस दौरान वैजिनल सेक्स करने से बचना चाहिए क्युकी ऐसी स्तिथि में इन्फेक्शन कि संभावना बढ़ जाती है।

इसके अलावा अगर प्रेगनेंसी में सेक्स करने से किसी और प्रकार कि कोई समाया हो तो सबसे पहले डॉक्टर से मिलकर उन्हें अपनी समस्या बताये इस दौरान थोड़ी सी लापरवाही से बहुत गंभीर परिणाम भुगतने पड़ सकते है।

Q: प्रेगनेंसी में पति से कब दूर रहना चाहिए?

प्रेगनेंसी के दौरान की अंतिम तिमाही में सेक्स नहीं करना चाहिए। ऐसी स्तिथि में योनि से ब्लीडिंग होने गंभीर समस्या का सामना कर पड़ सकता है इसलिए ऐसे समय पर सेक्स करने से बचें। एमनियोटिक फ्लूइड का रिसाव होने पर सेक्स न करें। गर्भाशय में पल रहे भ्रूण को कवर करने वाले लिक्विड के रिलीज होने पर सेक्स न करें।

Q: प्रेग्नेंट होने के बाद कितने महीने तक करना चाहिए?

प्रेगनेंसी को स्वस्थ बनाए रखने के लिए एक गर्भवती महिला को अनेको चीजों पर खास ध्यान देने की जरूरत होती है। क्योंकि जरा सी लापरवाही कई समस्याएं पैदा कर सकती है। प्रेगनेंसी के तीन महीने तक सेक्स को स्वस्थ माना जाता है।

Q: गर्भावस्था में कितने महीने तक संबंध बनाना चाहिए

प्रेगनेंसी के तीन महीने तक सेक्स को स्वस्थ माना जाता है।

Q: प्रेगनेंसी के कितने दिन बाद संबंध बनाना चाहिए

प्रेगनेंसी के तीन महीने तक सेक्स को स्वस्थ माना जाता है। उसके बाद, डॉक्टर सेक्स नहीं करने की सलाह देते हैं।

Leave your thought here

Please note, comments need to be approved before they are published.

Related Posts

Name of Sexual Power Enhancement Capsules, Price List in English - Positive Gems
June 27, 2023
सेक्स पावर कैप्सूल का नाम (Tablet), Price List in Hindi - Positive Gems

क्या हुआ?? क्या आपकी सेक्स पावर कम है बढ़ाना चाहते हो? वो भी बिना किसी साइड इफ़ेक्ट के तो आप...

Read More
जाने पीरियड में संबंध बनाने से क्या होता है ? - Positive Gems
June 23, 2023
जाने पीरियड में संबंध बनाने से क्या होता है ? - Positive Gems

There is no harm in having sex during periods, if you use protection (condom) to avoid infection. Let us tell...

Read More
Drawer Title
Similar Products